क्रीड़ा भारती का परिचय


क्रीड़ा भारती की स्थापना साल 1992 में खेलों के माध्यम से ‘स्वस्थ्य भारत – समर्थ भारत’ का निर्माण हो यह ध्यान में रखकर की गई। देश के अन्य स्थापित खेलों के साथ-साथ स्वदेशी खेलों को भी बढ़ावा मिले तथा समाज के सभी वर्गों में खेलों के प्रति आकर्षण बढ़े और खेलों के माध्यम से राष्ट्रीय चरित्र की भावना का निर्माण हो। देश में एक खेल संस्कृति का निर्माण हो और अन्तर्राष्ट्रीय स्पर्द्धाओं में हमारा देश विश्व के अग्रणी देशों में गिना जाये। इस लक्ष्य को ध्यान में रखकर क्रीड़ा भारती कार्यरत है।

गतिविधि


सदस्य


श्री चेतन चौहान (लखनौ)

पूर्व सांसद खेल मंत्री, उ.प्र.सरकार, अध्यक्ष

श्री चेतन्य कुमार कश्यप

कार्याध्यक्ष

श्री. राज चौधरी (पुणे)

महामंत्री

श्री. नारायण सिंह राणा

पूर्व खेल मंत्री, उत्तराखंड सरकार, वरिष्ठ उपाध्यक्ष

श्री गोपाल सैनी

(ओलम्पियन एवं अर्जुन अवार्डी), उपाध्यक्ष

निर्देशक क्या कहते हैं?
हमारे बारे में


क्रीड़ा भारती का गठन देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए हुआ है | क्रीड़ा भारती का नारा है “स्वस्थ भारत समर्थ भारत” इस नारे को मान्य प्रधान मंत्री जी ने और आगे बढ़ाया है और उन्होंने भी एक नारा दिया है “फिट इंडिया हिट इंडिया” क्रीड़ा भारती चाहती है अन्य विषयों की तरह खेल को भी स्कूल में अनिवार्य किया जाये |

श्री चेतन चौहान (लखनौ) पूर्व सांसद खेल मंत्री, उ.प्र.सरकार,
अध्यक्ष

निर्देशक क्या कहते हैं?
हमारे बारे में


क्रीड़ा भारती का गठन देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए हुआ है | क्रीड़ा भारती का नारा है “स्वस्थ भारत समर्थ भारत” इस नारे को मान्य प्रधान मंत्री जी ने और आगे बढ़ाया है और उन्होंने भी एक नारा दिया है “फिट इंडिया हिट इंडिया” क्रीड़ा भारती चाहती है अन्य विषयों की तरह खेल को भी स्कूल में अनिवार्य किया जाये |

श्री चेतन चौहान (लखनौ) पूर्व सांसद खेल मंत्री, उ.प्र.सरकार,
अध्यक्ष

उद्धरण


श्री गौतम गंभीर – क्रिकेट खिलाडी

युवा पीढ़ी खेलों के प्रति रूचि को बड़ा सकता है, इसके क्रीड़ा भारती का कार्य प्रयास सराहनीये है

राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से सम्मानित

मधु यादव – महिला हॉकी कोच

परंपरागत खेलों के प्रति युवाओं को जागरुक करने का सशक्त माध्यम क्रीड़ा भारती बनता जा रहा है।

राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से सम्मानित

पी.टी उषा – धावक

युवाओं में देशी खेलों प्रति बढ़ते रुझान से ये साफ है कि क्रीड़ा भारती अपने कार्य और लक्ष्य प्रकट कर आगे बढ़ रहा है।

राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से सम्मानित

श्री योगेश्वर दत्त – कुश्ती खिलाड़ी

क्रीड़ा भारती केवल संस्था नहीं बल्कि राष्ट्र की युवा पीढ़ी को ऊर्जावान बनाये रखने का माध्यम है।

राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड से सम्मानित
The date of Kreeda Gyaan Pariksha has been extended from 17 November to 1 December 2019 at 10:00 am.
क्रीड़ा ज्ञान परीक्षा की तिथि 17 नवंबर से आगे बढ़ाकर 1 दिसंबर 2019 सुबह 10:00 बजे कर दी गई है l